Benefits of raspberries and blueberries: ये फल बेहद फायदेमंद

 

Benefits of raspberries and blueberries

Benefits of raspberries and blueberries : रास्पबेरी नाम सुनते ही आपको खट्टा और मीठा स्वाद लगने लगता है। यह रसदार और स्वादिष्ट है। यह छोटा सा दिखने वाला रसभरी मधुमेह रोगियों के लिए जादू की तरह काम करता है। चूंकि मधुमेह रोगियों को बहुत कम भोजन मिलता है, जो उन्हें खाना चाहिए।

ऐसी स्थितियों में रसभरी न केवल उनके लिए सबसे अच्छा है, यह रोगियों को रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में भी मदद करता है। यदि कोई मधुमेह रोगी रसभरी खाता है, तो उसे बहुत लाभ मिलेगा। Benefits of raspberries and blueberries

रास्पबेरी फल नारंगी है, जो टमाटर की तरह दिखता है। कुछ लोग इसे केप गोल्डन बेरी, इंका बेरी, ग्राउंड बेरी और रास्पबेरी कहते हैं। मधुमेह रोगी इसे स्वस्थ नाश्ते या किसी भी समय खा सकते हैं।

आहार विशेषज्ञों के अनुसार, डॉक्टर मधुमेह रोगियों को एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर फल खाने के लिए कहते हैं। ऐसी स्थिति में रसभरी आसानी से किसी व्यक्ति की प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करती है।

 

मधुमेह रोगियों के लिए रसभरी क्यों अच्छी है- Benefits of raspberries and blueberries

 

रसभरी जैसे स्वादिष्ट फल सालों से खाए जाते रहे हैं। बहुत से लोग इसे पसंद नहीं करते क्योंकि यह खट्टा और मीठा होता है। हालांकि, यह मधुमेह से लड़ने के लिए लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है।

यह विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट और खनिजों से भरा हुआ है। जो अच्छे स्वास्थ्य के साथ-साथ बीमारी से बचाता है। कई अध्ययनों से पता चला है कि इस फल को खाने से हृदय रोग में सुधार होता है।

साथ ही यह टाइप 2 मधुमेह के रोगियों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है। इसके अलावा, यह फल वजन घटाने, हृदय रोग और अल्जाइमर रोग को कम करता है, जो मधुमेह की एक सामान्य जटिलता है।

 

Also Read – Affirmations For Weight Loss While You Sleep

 

यह फल मधुमेह में क्यों फायदेमंद है

 

  •  फाइबर में उच्च होने के कारण, यह रक्त शर्करा, इंसुलिन और लिपिड में सुधार करता है।

 

  • ऑक्सीडेटिव तनाव के कई स्तर हैं, जिन्हें रसभरी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट से नियंत्रित किया जा सकता है।

 

  • रसभरी में फ्रुक्टोज होता है, जिसे इंसुलिन की आवश्यकता नहीं होती है। इसलिए, यह फल मधुमेह के साथ ग्लूकोज के स्तर को कम करने में मदद करता है।

 

  •  मधुमेह में अनियंत्रित रक्त शर्करा का स्तर हृदय रोग, तंत्रिका क्षति, गुर्दे और आंखों की क्षति जैसी कई और जटिलताओं का कारण बन सकता है।

 

  •  इस मामले में, रसभरी में पाए जाने वाले फाइबर और पोषक तत्व रक्त शर्करा को नियंत्रित करते हैं। यही कारण है कि रसभरी को मधुमेह के लिए सबसे अच्छा फल माना जाता है।

 

नियमित रूप से रास्पबेरी खाने के अन्य लाभ

 

  •  इसमें बहुत अधिक फाइबर होता है और पानी कब्ज से बचाता है और पाचन तंत्र को मजबूत रखता है।

 

  •  इसे नियमित रूप से खेलने से रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

 

  • सूजन और रेड नेस का इलाज करके स्किन को स्वस्थ रखने में मदद करती  है।

 

  • विटामिन सी और फोलिक एसिड से भरपूर, यह बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करता है।

 

  •  रसभरी में जुकाम और फ्लू से लड़ने की क्षमता होती है क्योंकि इनमें पर्याप्त एंटीऑक्सीडेंट होते हैं।

 

  •  रसभरी विटामिन ए से भरपूर होती है जो आपकी आंखों की रोशनी के लिए बहुत फायदेमंद है।

 

  • हड्डियों की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए रास्पबेरी बहुत प्रभावी मानी जाती है।

 

  •  इसमें पेक्टिन होता है, जिसके कारण शरीर में कैल्शियम और फॉस्फोरस की मात्रा सही होती है।

 

  •  इसमें कई फाइटोकेमिकल्स भी होते हैं जो हृदय के लिए फायदेमंद होते हैं।

 

रसभरी कैसे खाएं – Benefits of raspberries and blueberries

 

टाइप 2 मधुमेह के रोगियों को कम से कम, दिन में दो रसभरी खाने चाहिए। इनके अलावा, रसभरी को 2 कप पानी में उबालें, जब तक कि यह पानी आधा न हो जाए। रोज सुबह इस पानी को पीने से मधुमेह से छुटकारा मिलता है।

Leave a Comment